शनिवार, 3 अप्रैल 2010

क्या सानिया की शादी राष्ट्रीय मुद्दा है


पिछले कुछ दिनों से खबरिया टीवी चैनलों से लेकर अखबार के पन्नों तक जो विषय सबसे ज्यादा गरम है वह है भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा की पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी शोएब से शादी का। पता नहीं क्यों मीडिया इसे इतना ज्यादा तवज्जो दे रहा है। ऐसा लग रहा है कि सानिया की शादी का असर दोनों देशों के रिश्तों पर पड़ेगा। जबकि ऐसा होना होता तो तभी हो जाता जब रीना राय ने मोहसीन खान से निकाह किया था।

खैर तब तो कोई फर्क नहीं पड़ा, लेकिन इस बार भी ऐसा शोर मचा रहे हैं मानो अब कोई फर्क पड़ेगा। मुझे निजी तौर पर ऐसा लगता है कि मीडिया के पास खबरों का अकाल है, इसलिए इन खबरों को दिनभर चलाया जा रहा है और विशेषज्ञों से गहन चर्चाएं कराई जा रही हैं। खैर इनकी शादी के होने या न होने से देश की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। हां लेकिन कुछ लोगों को मुद्दा जरूर मिल गया है। चाहे वो भारत के लोग हों या फिर पाकिस्तान के। आपने भी ये सुन रखा होगा कि अब कहा जा रहा है कि सानिया भारत से ही खेलती रहेंगी या फिर पाकिस्तान से खेलेंगी। हालांकि एक और बड़ा मुद्दा तो शोएब की पहली शादी का है।

यानी अभी गांव बसा नहीं और…………. आगे तो आप समझ ही गए होंगे।

मैं तो नहीं समझ पा रहा हूं कि इसे तूल क्यों दिया जा रहा है यदि आपको पता हो तो मुझे भी बताएं।

2 टिप्‍पणियां:

  1. राष्ट्रीय का तो पता नहीं पर महाराष्ट्रीय अवश्य हो गया है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Paandey ji, Shaadi to har kisi ka niji maamla hota hai, chaahe wo Koi bhi ho. To fir Saniya ki shaadi Rashtriya mudda kaise ho sakta hai?
    Kapde se civilized banne waale log(specialy media person) Kab honge log civilized thinking se ?

    उत्तर देंहटाएं